एस.एस.सी. कनिष्ठ अभियन्ता परीक्षा पेपर 2016 "03 मार्च 2017" सुबह की पाली (सामान्य अभियांत्रिकी) SSC Junior Engineers (JE) Online Exam Paper - 2016 "held on 03 March 2017" Morning Shift (General Engineering)



एस.एस.सी. कनिष्ठ अभियन्ता परीक्षा पेपर 2016 "03 मार्च 2017" सुबह की पाली (सामान्य अभियांत्रिकी) SSC Junior Engineers (JE) Online Exam Paper - 2016 "held on 03 March 2017" Morning Shift (General Engineering)



QID : 401 - ज़िंक-कार्बन सेल के लिए निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

Options:
1) कार्बन इलेक्ट्रोड के विरुद्ध ज़िंक कंटेनर में विभव 1.5 V होता है।
2) ज़िंक के ऑक्सीकरण के लिए वायु  क्षेत्र (एयर स्पेस) में वायु की आवश्यकता होती है।
3) जब सेल से धारा प्रवाहित होती है, तो कार्बन रॉड का आंशिक क्षरण होता है।
4) विध्रुवक (डिपोलराइजर) में मुख्यत: भूरा लौह अयस्क और कार्बन पाउडर होता है।

Correct Answer: विध्रुवक (डिपोलराइजर) में मुख्यत: भूरा लौह अयस्क और कार्बन पाउडर होता है।

QID : 402 - छत के पंखों की मोटर के लिए समान्यत: उपयोग किए जाने वाला संधारित्र (कैपेसिटर) का मान 2.3 μF है । उपयोग किए जाने वाले संधारित्र (कैपेसिटर) समान्यत: ____ प्रकार का होता है।

Options:
1) पेपर कैपेसिटर
2) विदयुत अपघट्य संधारित्र (इलेक्ट्रोलाइट कैपेसिटर)
3) माइका परावैदयुत (डाइइलेक्ट्रिक) सहित समानांतर प्लेट
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: पेपर कैपेसिटर

QID : 403 - विदयुत आवेशों के बीच बल के लिए लगने वाला कूलम्ब का नियम, लगभग _______ के सदृश होता है। के

Options:
1) 'न्यूटन की गति' नियम
2) 'ऊर्जा संरक्षण'  नियम
3) 'गॉस प्रमेय'
4) 'न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण' नियम

Correct Answer: 'न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण' नियम

QID : 404 - आवेशित खोखले गोले के भीतर विभव (पोटेंशियल) ____ होगा।

Options:
1) शून्य
2) सतह के समान
3) सतह से कम
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: सतह के समान

Click Here To Download Full Paper

Study Kit for SSC Junior Engineer EXAM (Paper-1) 2017-2018

Books for SSC Junior Engineers Exam

QID : 405 - एक 40 μF के संधारित्र (कैपेसिटर) को 500 वोल्ट्स के विभवांतर तक आवेशित किया गया। संधारित्र द्वारा अर्जित आवेश, कूलम्ब में, कितना होगा?

Options:
1) 2.2
2) 2
3) 0.22
4) 0.02

Correct Answer: 0.02

QID : 406 - निम्नलिखित में से किस संधारित्र (कैपेसिटर) में सबसे कम ऊर्जा संचित होगी?

Options:
1) 10 kV तक आवेशित 500 pF के एक संधारित्र में
2) 5 kV तक आवेशित 1 μF के एक संधारित्र में
3) 400 V तक आवेशित एक 40 μF के एक संधारित्र में
4) सबमें समान ऊर्जा संचित होगी

Correct Answer: 10 kV तक आवेशित 500 pF के एक संधारित्र में

QID : 407 - आवेशित कणों के कारण बल की रेखाएं ___________ होती हैं।

Options:
1) हमेशा सीधी
2) हमेशा वक्र
3) कभी- कभी वक्र
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: हमेशा वक्र

QID : 408 - एक संधारित्र (कैपेसिटर)) को समानांतर में एक धारिता (कैपेसिटेंस) और एक प्रतिरोध द्वारा प्रदर्शित किया जा सकता है। अच्छे संधारित्र के लिए, इस समानांतर प्रतिरोध का मान कितनाहोगा?

Options:
1) बहुत अधिक
2) बहुत कम
3) कम
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: बहुत अधिक

QID : 409 - एक विदयुत आवेश सतत् गति(v) से एकसमान चुंबकीय क्षेत्र B की बल की रेखाओं के समानांतर गतिशील है। आवेश द्वारा अनुभव किए जाने वाला बल कितना होगा?

Options:
1) eVB
2) e/BV
3) eV/B
4) 0

Correct Answer: eVB

QID : 410 - निम्नलिखित में से किस उपकरण में ऊष्मीय प्रभाव का उपयोग होता है ?

Options:
1) विदयुत  मोटर
2) ट्रांस्फार्मर
3) विदयुत  फरनेस
4) जेनरेटर

Correct Answer: विदयुत  फरनेस

QID : 411 - 10 Ω प्रतिरोध वाले परिपथ में 100 V वोल्टता (वोल्टेज) को लागू किया जाता है। प्रतिरोध द्वारा शक्ति ह्रास (वॉट में) कितना होगा?

Options:
1) 100
2) 500
3) 1000
4) 1500

Correct Answer: 1000

QID : 412 - 750 W की तुलना में 1000 W रेटिंग वाली विदयुत इस्त्री (इलेक्ट्रिक आइरन) द्वारा कितनी ऊर्जा खर्चा होगी?

Options:
1) अधिक
2) कम
3) आधी
4) समान

Correct Answer: अधिक

QID : 413 



Options:
1) R = (1/R1) + (1/R2) +... + (1/Rn)
2) 1/R = (1/R1) + (1/R2) +... + (1/Rn)
3) 1/R = R1 + R2 +... + Rn
4) R = R1 + R2 +... + Rn

Correct Answer: R = R1 + R2 +... + Rn

QID : 414 

Options:
1) कुल वोल्टेज 24 V है ।
2) कुल वोल्टेज शून्य है ।
3) व्यवस्था को अधिकतम 10A तक लोड किया जा सकता है ।
4) समानांतर में जुड़े वोल्टेज स्रोत अधिकतम 20 A तक करेंट को आपूर्तित कर सकते हैं ।

Correct Answer: समानांतर में जुड़े वोल्टेज स्रोत अधिकतम 20 A तक करेंट को आपूर्तित कर सकते हैं ।

QID : 415 - एक दिये गए चालक के प्रतिरोध का तापमान गुणांक का मान क्या होता है?

Options:
1) दिये गए भिन्न तापमानों पर भिन्न रहता है​।
2) दिये गए भिन्न तापमानों पर समान रहता है​।
3) तापमान बढ़ने के साथ वृद्धि होती है​।
4) हमेशा स्थिर रहता है।

Correct Answer: दिये गए भिन्न तापमानों पर भिन्न रहता है​।

QID : 416 - ओम के नियम की शर्त है कि________

Options:
1) तापमान स्थिर रहना चाहिए।
2) V/I का अनुपात स्थिर रहना चाहिए।
3) तापमान चर होना चाहिए।
4) धारा वोल्टता के समानुपाती होनी चाहिए।

Correct Answer: तापमान स्थिर रहना चाहिए।

QID : 417 -निम्नलिखित तारों में से किसका प्रतिरोध अधिकतम होगा?

Options:
1) 5 मी. और 2 मि.मी.2  वाला तांबे का तार
2) 1 मी. और 6 मि.मी.2 वाला तांबे का तार
3) 8 मी. और 1 मि.मी.2 वाला ऐलुमिनियम तार
4) 1 मी. और 6 मि.मी.2 वाला ऐलुमिनियम तार

Correct Answer: 8 मी. और 1 मि.मी.2 वाला ऐलुमिनियम तार

QID : 418 -

Options:
1) 1  ऐम्पियर
2) 0.5 ऐम्पियर
3) 0.2 ऐम्पियर
4) शून्य 

Correct Answer: शून्य 

QID : 419 - एक चुंबक किसकों आकर्षित करने में सक्षम होता है?

Options:
1) लौह, ऐलुमिनियम और पीतल
2) लौह, कोबाल्ट और ज़िंक
3) लौह, तांबा और निकिल
4) निकिल, कोबाल्ट और इस्पात

Correct Answer: निकिल, कोबाल्ट और इस्पात

QID : 420 - लोहे में चुंबकीय संतृप्तता का क्या अर्थ है?

Options:
1) लोहे द्वारा चुंबकीय क्षेत्र को प्रबलीकृत करना (पारगम्यता)
2) चुंबकन (मैग्नेटाइजेशन) वक्र का वह भाग जिसमें चुंबकीय क्षेत्र सामर्थ्य H के कारण चुंबकीय अभिवाह घनत्व (फ्लक्स डेंसिटी) B में थोड़ा सा  परिवर्तन आना
3) चुंबकन के दौरान क्षय
4) संतृप्तता के क्षेत्र में, प्राथमिक चुंबक पूरी तरह से व्यवस्थित न होना

Correct Answer: चुंबकन (मैग्नेटाइजेशन) वक्र का वह भाग जिसमें चुंबकीय क्षेत्र सामर्थ्य H के कारण चुंबकीय अभिवाह घनत्व (फ्लक्स डेंसिटी) B में थोड़ा सा  परिवर्तन आना

QID : 421 - बाईपोलर जंक्शन ट्रांजिस्टर में, α-कट ऑफ आवृति_________बढ़ती है।

Options:
1) बेस चौड़ाई (विड्थ) के बढ़ने के साथ
2) कलेक्टर विड्थ के बढ़ने के साथ
3) तापमान के बढ़ने के साथ
4) बेस विड्थ के घटने के साथ

Correct Answer: बेस चौड़ाई (विड्थ) के बढ़ने के साथ

QID : 422 - 10 वाट शक्ति आउटपुट देने के लिए श्रेणी A ट्रांसफार्मर कपल्ड, ट्रांजिस्टर पॉवर प्रवर्धक (एम्प्लीफायर का उपयोग किया जाता है। ट्रांजिस्टर की अधिकतम शक्ति रेटिंग कितने वॉट से कमनहीं होनी चाहिए?

Options:
1) 5 W
2) 10 W
3) 20 W
4) 40 W

Correct Answer: 20 W

QID : 423 20kHz से 100kHz रेंज में प्रचालित स्विचित अभिगम ऊर्जा आपूर्ति (स्वीचिंग मोड पॉवर सप्लाई) में मुख्य स्वीचिंग अवयव कौन होता है?

Options:
1) थाइरिस्टर
2) एम.ओ.एस. एफ.ई.टी.
3) ट्राएक
4) यू.जे.टी.

Correct Answer: एम.ओ.एस. एफ.ई.टी.

QID : 424 - p-n जंक्शन के पार (एक्रॉस) निर्वहन विभव में क्या परिवर्तन होता है?

Options:
1) मादन (डोपिंग) सांद्रता बढ़ने के साथ घटता है।
2) बैंड गेप घटने के साथ बढ़ता है।
3) डोपिंग सांद्रता पर निर्भर नहीं करता है।
4) डोपिंग सांद्रता में वृद्धि के साथ बढ़ता है।

Correct Answer: डोपिंग सांद्रता में वृद्धि के साथ बढ़ता है।

QID : 425 - दो डायोड वाले पूर्ण तरंग परिशोधक (फुल-वेव रेक्टिफायर) की तुलना में, चार डायोड ब्रिज रेक्टिफायर का मुख्य फायदा क्या है?

Options:
1) उच्च धारा वहन क्षमता
2) निम्न प्रतीप शिखर वोल्टता (पीक इनवर्स वोल्टेज) की आवश्यकता
3) निम्न उर्मिका गुणक (रिप्पल फैक्टर)
4) उच्च दक्षता

Correct Answer: निम्न प्रतीप शिखर वोल्टता (पीक इनवर्स वोल्टेज) की आवश्यकता

QID : 426 - दिष्ट धारा पार्श्व मोटर (डी.सी. शंट मोटर) में, यदि टर्मिनल वोल्टता को आधे तक कम कर दिया जाए और बल आघूर्ण को समान रखा जाए तो क्या होगा?

Options:
1) गति आधी हो जाएगी और आर्मेचर धारा भी आधी हो जाएगी।
2) गति आधी हो जाएगी लेकिन आर्मेचर धारा समान रहेगी।
3) गति आधी हो जाएगी और आर्मेचर धारा दोगुनी हो जाएगी।
4) गति और आर्मेचर धारा दोनों समान रहेंगी।

Correct Answer: गति आधी हो जाएगी और आर्मेचर धारा दोगुनी हो जाएगी।

QID : 427 - दिष्ट धारा मशीन की उत्तेजित (एक्साइटेड) कुंडलियां किसमें जुड़ी होती हैं?

Options:
1) मशीन में
2) आर्मेचर स्लॉट्स में
3) ध्रुव के चारों ओर
4) अलग से

Correct Answer: ध्रुव के चारों ओर

QID : 428 - शून्य से नाममात्र भार (लोड) में, निम्नलिखित में से किस दिष्ट धारा मोटर की गति में सबसे कम अवपात होगा?

Options:
1) दिक्परिवर्तित (कंम्यूटेटिंग) ध्रुवों के साथ पार्श्व (शंट) मोटर
2) दिक्परिवर्तित (कंम्यूटेटिंग) ध्रुव रहित श्रेणी मोटर
3) दिक्परिवर्तित (कंम्यूटेटिंग) ध्रुव रहित संयोजित (कंपाउंड) मोटर
4) दिक्परिवर्तित (कंम्यूटेटिंग) ध्रुव सहित श्रेणी मोटर

Correct Answer: दिक्परिवर्तित (कंम्यूटेटिंग) ध्रुवों के साथ पार्श्व (शंट) मोटर

QID : 429 - लाइन शाफ्ट खराद मशीन (लेथ), ब्लोवर और पंखों में सतत् गति के लिए निम्नलिखित में से किस मोटर का उपयोग होता है?

Options:
1) दिष्ट धारा पार्श्व (डी.सी. शंट) मोटर
2) दिष्ट धारा श्रेणी मोटर
3) संचयी संयोजित (कम्युटेटिव कंपाउंड) मोटर
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: दिष्ट धारा पार्श्व (डी.सी. शंट) मोटर

QID : 430 - यदि दिष्ट धारा पार्श्व (डी.सी. शंट) मोटर का क्षेत्र (फील्ड) खुला हो तो, _______।

Options:
1) यह निर्धारित गति पर निरंतर चलेगी
2) मोटर की गति बहुत अधिक हो जाएगी
3) मोटर रुक जाएगी 
4) मोटर की गति कम हो जाएगी

Correct Answer: मोटर की गति बहुत अधिक हो जाएगी

QID : 431 - जब एक विदयुत रेलगाड़ी पहाड़ से नीचे उतरती है, तो दिष्ट धारा (डी.सी.) मोटर किस रूप में काम करती है?

Options:
1) दिष्ट धारा (डी.सी.)श्रेणी मोटर
2) दिष्ट धारा (डी.सी.) पार्श्व मोटर
3) दिष्ट धारा (डी.सी.) श्रेणी जनित्र (जेनरेटर)
4) दिष्ट धारा (डी.सी.)पार्श्व जनित्र

Correct Answer: दिष्ट धारा (डी.सी.) श्रेणी जनित्र (जेनरेटर)

QID : 432 - प्रतिरोधकता के मापन का प्रयोग किसको निर्धारित करने में होता है?

Options:
1) आंतरिक अर्ध चालक में वाहक सांद्रता (कैरियर कंसंट्रेशन)
2) बाह्य अर्ध चालक में वाहक सांद्रता
3) पॉलीक्रिस्टलाइन पदार्थ का जीवन काल
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: बाह्य अर्ध चालक में वाहक सांद्रता

QID : 433 - Ge में, जब परमाणु आपस में संयोजकता इलेक्ट्रॉन का साझा करते हैं तो______

Options:
1) प्रत्येक साझा परमाणु एक छिद्र ((होल्स) बनाता है।
2) संयोजकता इलेक्ट्रॉन केंद्र से बाहर जाने के लिए मुक्त हो जाते हैं।
3) संयोजकता इलेक्ट्रॉन्स अनुतक्रमणीय (इरिरिवर्सिबल) सहसंयोजी बंध बनाते हैं।
4) संयोजकता इलेक्ट्रॉन्स उत्क्रमणीय (रिवरसिबल) सहसंयोजी बंध बनाते हैं।

Correct Answer: संयोजकता इलेक्ट्रॉन्स उत्क्रमणीय (रिवरसिबल) सहसंयोजी बंध बनाते हैं।

QID : 434 - शुद्ध अर्थ चालक में, विदयुत धारा किसके कारण होती है?

Options:
1) केवल छिद्रों (होल्स)
2) केवल इलेक्ट्रॉन्स
3) छिद्रों और इलेक्ट्रॉन्स दोनों
4) केवल संयोजकता इलेक्ट्रॉन्स

Correct Answer: छिद्रों और इलेक्ट्रॉन्स दोनों

QID : 435 - शुद्ध अर्ध चालक में प्रतिरोध का तापमान गुणांक ____ होता है।

Options:
1) शून्य
2) धनात्मक
3) ऋणात्मक
4) नमूने के आकार पर निर्भर

Correct Answer: ऋणात्मक

QID : 436 - एक अर्ध चालक में स्वीकारी अपद्रव्य परमाणु (एक्सेप्टर इंप्यूरिटी एटम) के परिणामस्वरूप नया _______ होता है ।

Options:
1) वाइड एनर्जि बैंड
2) संकरा ऊर्जा बैंड
3) कंडक्सन स्तर के ठीक नीचे असतत (डिसक्रीट) ऊर्जा स्तर
4) वेलेंसी स्तर के ठीक ऊपर असतत (डिसक्रीट) ऊर्जा स्तर

Correct Answer: वेलेंसी स्तर के ठीक ऊपर असतत (डिसक्रीट) ऊर्जा स्तर

QID : 437 - एक n-प्रकार अर्ध चालक ______ होता है।

Options:
1) धानात्मक आवेशित
2) ऋणात्मक आवेशित
3) वैदयुत उदासीन
4) अर्ध चालक उपकरण में प्रयोग नहीं

Correct Answer: वैदयुत उदासीन

QID : 438 - जब मुक्त इलेक्ट्रॉन को छिद्र (होल्स) के द्वारा पुनः प्राप्त कर लिया जाता है, तो यह प्रक्रिया क्या कहलाती है?

Options:
1) पुनर्संयोजन (रिकोंबिनेशन)
2) निर्वहन (डिफ्यूजन)
3) अपवाह (ड्रिफ्ट)
4) प्रत्यावर्तन (रेस्टोरेशन)

Correct Answer: पुनर्संयोजन (रिकोंबिनेशन)

QID : 439 - क्रिस्टल संरचना में खामियों का क्या परिणाम होता है?

Options:
1) चालकता बढ़ जाती है।
2) चालकता घट जाती है।
3) गतिशीलता बढ़ जाती है।
4) गतिशीलता घट जाती है।

Correct Answer: गतिशीलता घट जाती है।

QID : 440 - सामान्य तापमान पर, सिलिकॉन की तुलना में जर्मेनियम में आंतरिक वाहक सांद्रता (इंट्रिंसिक कैरियर कंसंट्रेशन) अधिक क्यों होती है?

Options:
1) Si की तुलना में, Ge में वाहक गतिशीलता अधिक होती है।
2) Si की तुलना में, Ge का ऊर्जा अंतराल छोटा होता है।
3) Si की तुलना में, Ge का परमाणु क्रमांक अधिक होता है।
4) Si की तुलना में, Ge का परमाणु भार अधिक होता है।

Correct Answer: Si की तुलना में, Ge का ऊर्जा अंतराल छोटा होता है।

QID : 441 - अधिरोही वृद्धि (एपिस्टाइलिस ग्रोथ) किसके वर्धन के लिए सबसे उपयुक्त होता है?

Options:
1) पॉलीक्रिस्टलाइन सिलिकॉन
2) प्रतिस्थापी (सब्सट्रेट) पर बहुत पतली एकल क्रिस्टल सतह
3) कुछ इंच के आकार के कई एकल क्रिस्टल
4) कई मि.मी. के आकार का एकल क्रिस्टल

Correct Answer: प्रतिस्थापी (सब्सट्रेट) पर बहुत पतली एकल क्रिस्टल सतह

QID : 442 



Options:
1) 2.0 A
2) 1.66 A
3) 0.04 A
4) 0.62 A

Correct Answer: 0.62 A

QID : 443 



Options:
1) 1 : 1
2) 1 : 2
3) 1 : 4
4) 2 : 1

Correct Answer: 1 : 1

QID : 444 - दो समानांतर तारों के बीच की दूरी 'd' है और उनमें एक ही दिशा में दिष्ट धारा 'I' बह रही हैI इन दोनों तारों के समानांतर और बीच में एक रेखा पर चुंबकीय क्षेत्र _____ होगा।

Options:
1) I पर निर्भर
2) शून्य
3) d पर निर्भर
4) तारों के बीच माध्यम की पारगम्यता पर निर्भर

Correct Answer: शून्य

QID : 445 - घर पर एक वॉटर बॉयलर 230 V/50 Hz ए.सी. मैंस सप्लाई ऊर्जा पर स्विच ऑन किया जाता है । बॉयलर द्वारा उपभोग की गई क्षणिक ऊर्जा की आवृति होगी :

Options:
1) 0 Hz
2) 50 Hz
3) 100 Hz
4) 150 Hz

Correct Answer: 100 Hz

QID : 446 - 10 A धारा वहन करने वाली 1000 टर्न्स वाली वायर के साथ बंधे 30 से.मी. लंबे और 3 से.मी. व्यास वाले सोलीनोइड में संचित ऊर्जा _____ होगी।

Options:
1) 0.015 जूल्स
2) 0.15 जूल्स
3) 0.5 जूल्स
4) 1.15 जूल्स

Correct Answer: 0.15 जूल्स

QID : 447 - आर-एल (R-L) परिपथ का आवेग अनुक्रिया (इम्पल्स रेस्पांस) ___________ होता है।

Options:
1) बढ़ता हुआ एक्स्पोनेंशियल फंकशन
2) घटता हुआ एक्स्पोनेंशियल फंकशन
3) स्टेप फंकशन
4) परावलय (पेराबोलीक) फंकशन

Correct Answer: घटता हुआ एक्स्पोनेंशियल फंकशन

QID : 448 - एक अक्रिय 2-पोर्ट नेटवर्क साम्य अवस्था में है। इसके इनपुट की तुलना में साम्य अवस्था का आउटपुट कभी भी ____ प्रस्तावित नहीं करता है।

Options:
1) उच्च वोल्टता
2) निम्न प्रतिबाधा
3) अधिक शक्ति
4) बेहतर नियमन

Correct Answer: अधिक शक्ति

QID : 449 - निम्न में कौन सा बैटन वायरिंग का प्रकार है?

Options:
1) धातु आच्छादित वायरिंग
2) टी.आर.एस. या पी.वी.सी. तार
3) धातु आच्छादित वायरिंग और टी.आर.एस. या पी.वी.सी. तार दोनों
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: धातु आच्छादित वायरिंग और टी.आर.एस. या पी.वी.सी. तार दोनों

QID : 450 



Options:
1) स्थिर वोल्टेज
2) रैखिक रूप से बढ़ती हुई वोल्टेज
3) आदर्श इमपल्स
4) एक्षपोनेन्शियली बढ़ती हुई वोल्टेज

Correct Answer: आदर्श इमपल्स

QID : 451 - श्रेणी RLC परिपथ में अनुनाद पर धारा का मान किसके के मान से प्रभावित होता है?

Options:
1) R
2) C
3) L
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: सभी विकल्प सही है।

QID : 452 - एकल-फेज मोटर को किसके द्वारा जोड़कर स्वचालित (सेल्फ स्टार्टिंग) बनाया जाता है?

Options:
1) रनिंग कुंडलन (वाइंडिंग)
2) स्टार्टिंग कुंडलन
3)  प्रवर्तक (इलेक्ट्रिक स्टार्टर)
4) ऑटोट्रांसफार्मर

Correct Answer: स्टार्टिंग कुंडलन

QID : 453 - यदि एक समान चुंबकीय ध्रुवता के लिए मोटर के सभी स्टेटर कुंडलियों को जोड़ दिया जाए, तो समान संख्या के _________ बनेंगे।

Options:
1) विपरीत ध्रुवता वाले अनुवर्ती ध्रुव (कॉन्सीक्वेंट पोल्स)
2) समान ध्रुवता वाले अनुवर्ती ध्रुव
3) विपरीत ध्रुवता वाले घूर्णक ध्रवु (रोटर पोल्स)
4) समान ध्रुवता वाले घूर्णक ध्रुव

Correct Answer: विपरीत ध्रुवता वाले अनुवर्ती ध्रुव (कॉन्सीक्वेंट पोल्स)

QID : 454 - संधारित्र-आरंभ (कैपेसिटर-स्टार्ट) मोटर के, इसकी घूर्णन की दिशा उत्क्रमित (रिवर्स) होने से पहले ______चाहिए।

Options:
1) अपकेंद्री (सेंट्रीफ्यूगल) स्विच खुला होना
2) रनिंग वाइंडिंग खुली होनी 
3) स्टार्टिंग वाइंडिंग लाइन से संयोजित होनी 
4) संधारित्र संयोजन परिवर्तित होनी 

Correct Answer: स्टार्टिंग वाइंडिंग लाइन से संयोजित होनी 

QID : 455 - एक प्रतिकर्षण आरंभ प्रेरण मोटर (रिपल्शन स्टार्ट इंडक्शन-रन मोटर) कब, प्रेरण मोटर के रूप में कार्य करती है?

Options:
1) जब दिक्परिवर्तक खंड, शॉर्ट सर्किट होते हैं।
2) जब ब्रश उदासीन (न्यूट्रल) तल की ओर विस्थापित होते हैं।
3) जब सार्टिंग उपकरण असंबद्ध (डिसकनेक्टिड) रहते हैं।
4) जब स्टेटर संयोजन उत्क्रमित (रिवर्स्ड) रहते हैं।

Correct Answer: जब दिक्परिवर्तक खंड, शॉर्ट सर्किट होते हैं।

QID : 456 - प्रतिकर्षी (रिपलशन) मोटर किसकी तरह आरंभ (स्टार्ट) और कार्य करती है?

Options:
1) विभक्त (स्प्लिट) फेज मोटर
2) संधारित्र आरंभ (कैपेसिटर स्टार्ट) मोटर
3) प्रतिकर्षी (रिपलशन) मोटर
4) संयुक्त (कम्पाउंड) मोटर

Correct Answer: प्रतिकर्षी (रिपलशन) मोटर

QID : 457 - पूर्ण गति पर कार्य कर रही मोटर की घूर्णन की दिशा को उत्क्रमित (रिवर्स) करने के लिए विदयुत संयोजन को बदलना क्या कहलाता है?

Options:
1) स्लगिंग
2) प्लगिंग
3) डाइनैमिक ब्रेकिंग
4) ब्रश शिफ्टिंग

Correct Answer: प्लगिंग

QID : 458 - ओहम मीटर में गुणांक विशेषता (मल्टीप्लिकेशन फीचर), मीटर को किसके योग्य बनाने के लिए जोड़े जाते हैं?

Options:
1) अत्यधिक उच्च प्रतिरोध मान के मापन के लिए
2) न्यूनतम त्रुटि के साथ मान के मापन के लिए
3) इसके अनुप्रयोग को बहुद्देशीय बनाने के लिए
4) कम ऊर्जा खपत के लिए

Correct Answer: न्यूनतम त्रुटि के साथ मान के मापन के लिए

QID : 459 - PM-MC मीटर की तुलना में मूविंग आयरन मीटर के प्रचालन में अधिक शक्ति की आवश्यकता चुंबकीय परिपथ के उच्च _______ के कारण होती है।

Options:
1) प्रतिरोध (रेजिस्टेंस)
2) प्रतिष्टंभ (रिलक्टेंस)
3) धारण क्षमता (रिटेंटीविटी)
4) प्रत्यास्थता (रेजिलियंस)

Correct Answer: प्रतिष्टंभ (रिलक्टेंस)

QID : 460 - उपकरण में दिष्टकारी (रेक्टिफायर) का उपयोग किस उद्देश्य के लिए होता है?

Options:
1) उच्च वोल्टता मान के मापन के लिए
2) उच्च धारा मान के मापन के लिए
3) प्रत्यावर्ती धारा (ए.सी.) को दिष्ट धारा (डी.सी.) में परिवर्तित करने के लिए
4) उपकरण को अधिक स्थायी बनाने के लिए

Correct Answer: प्रत्यावर्ती धारा (ए.सी.) को दिष्ट धारा (डी.सी.) में परिवर्तित करने के लिए

QID : 461 - 4-डायल वॉट घंटा मीटर के दायें पहले डायल में पाठ्यांक क्या दर्शाता है?

Options:
1) एकल इकाईयों (यूनिट) की संख्या
2) कुल वॉट प्रति घंटा
3) मीटर द्वारा दर्ज किया जा सकने वाला अधिकतम मान
4) पूर्ववर्ती डायल का गुणांक मान

Correct Answer: एकल इकाईयों (यूनिट) की संख्या

QID : 462 - डिमांड मीटर निम्नलिखित में से किसको इंगित करने के लिए होता है?

Options:
1) पीक शक्ति अवधि
2) उच्च भार गुणक (लोड फैक्टर)
3) निम्न kWh उपभोग
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: सभी विकल्प सही है।

QID : 463 - एक औद्योगिक विश्लेषक (इंडस्ट्रियल एनालाइजर), निम्नलिखित में से किसको मापने के लिए उपयुक्त नहीं है?

Options:
1) शक्ति
2) प्रतिरोध
3) धारा
4) शक्ति घटक (पॉवर फैक्टर)

Correct Answer: प्रतिरोध

QID : 464 - एक मल्टीमीटर को अक्सर VOM भी कहते हैं जो वोल्ट-ओह्म _______ का संक्षिप्त है।

Options:
1) मीटर
2) मेगामीटर
3) मिलीएमीटर
4) माइक्रोएमीटर

Correct Answer: मिलीएमीटर

QID : 465 - व्हीट स्टोन ब्रिज से निम्नलिखित में से किसको मापा जाता है

Options:
1) धारा
2) प्रतिरोध
3) वोल्टेज
4) शक्ति

Correct Answer: प्रतिरोध

QID : 466 



Options:
1) R1
2) R2
3) R3
4) R4

Correct Answer: R3

QID : 467 - नियंत्रण पैनल में प्रयोग किए जाने वाला सबसे सरल विदयुत सूचक उपकरण क्या है?

Options:
1) दिष्ट धारा (डी.सी.) वोल्टमीटर
2) प्रत्यावर्ती धारा (एसी) एमीटर
3) सिंक्रोस्कोप
4) प्रकाश बल्ब

Correct Answer: प्रकाश बल्ब

QID : 468 - पूर्ण भार के साथ चालित अवस्था के तहत, तुल्यकालिक (सिंक्रोनस) मोटर का स्लिप _____ होता है।

Options:
1) शून्य
2) लगभग 0.2
3) लगभग 0.01
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: शून्य

QID : 469 - तुल्यकालिक (सिंक्रोनस) मोटर में समान्यत: कैसा रोटर होता है?

Options:
1) बेलनाकार रोटर (सिलिंड्रिकल रोटर)
2) समुन्नत ध्रुव रोटर (सैलियंट पोल रोटर)
3) बेलनाकार और समोन्नत ध्रुव रोटर दोनों
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: समुन्नत ध्रुव रोटर (सैलियंट पोल रोटर)

QID : 470 - तुल्यकालिक (सिंक्रोनस) मोटर का शक्ति आउटपुट ________ होता है।

Options:
1) तुल्यकालिक प्रतिघात (सिंक्रोनस रिएक्टेंस) के प्रत्यक्ष समानुपाती
2) तुल्यकालिक प्रतिघातत के व्युत्क्रमानुपाती
3) तुल्यकालिक प्रतिघात पर निर्भर नहीं
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: तुल्यकालिक प्रतिघातत के व्युत्क्रमानुपाती

QID : 471 - प्रत्यावर्तक (आल्टर्नेटर) का शॉर्ट सर्किट अभिलक्षण _________ होता है ।

Options:
1) हमेशा रैखिक
2) हमेशा अरैखिक
3) कुछ समय रैखिक और कुछ समय अरैखिक
4) इनमें से कोई नहीं ।

Correct Answer: हमेशा रैखिक

QID : 472 - बड़े आकार के आधुनिक प्रत्यावर्तक (आल्टर्नेटर) के आर्मेचर लीकेज रिएकटेन्स और तुल्यकालिक (सिंक्रोनस) रिएकटेन्स का अनुपात लगभग ________ होता है ।

Options:
1) 0.05
2) 0.2
3) 0.6
4) 0.8

Correct Answer: 0.2

QID : 473 - उच्च गति प्रत्यावर्तक (आल्टर्नेटर) में समान्यत: क्या होता है?

Options:
1) समोन्नत ध्रुव रोटर
2) बेलनाकार (सिलिंड्रिकल) रोटर
3) समोन्नत ध्रुव और बेलनाकार रोटर दोनों
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: बेलनाकार (सिलिंड्रिकल) रोटर

QID : 474 - एक भारित उच्चायी ट्रांसफार्मर (लोडेड स्टेप-अप) के द्वीतीयक (सेकेंड्री) की तुलना में, प्राथमिक (प्राइमरी) में _______ होता है।

Options:
1) निम्न वोल्टता और उच्च धारा
2) उच्च वोल्टता और निम्न धारा
3) निम्न वोल्टता और निम्न धारा
4) उच्च वोल्टता और उच्च धारा

Correct Answer: निम्न वोल्टता और उच्च धारा

QID : 475 - प्रचालन स्थितियों के तहत, विदयुत ट्रांसफार्मर का द्वितीयक (सेकेंड्री) हमेशा शॉर्ट सर्किट रहता है, क्यों?

Options:
1) यह प्राथमिक परिपथ को सुरक्षित रखता है।
2) यह व्यक्तियों के लिए सुरक्षित होता है।
3) यह कोर संतृप्तता और उच्च वोल्टता प्रेरण को रोकता है।
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: यह कोर संतृप्तता और उच्च वोल्टता प्रेरण को रोकता है।

QID : 476 - शॉर्ट-सर्किट टेस्ट के दौरान, ट्रांस्फार्मर का लौह क्षय नगण्य होता है क्योंकि

Options:
1) पूरा इनपुट केवल कॉपर क्षय की आपूर्ति के लिए पर्याप्त होता है ।
2) एच.वी. (हाई वोल्टेज) साइड पर आपूर्तित वोटलेज, रेटिड वोल्टेज का छोटा हिस्सा होता है और इसलिए इसका फ्लक्स भी ।
3) लौह कोर पूरी तरह से संतृप्त हो जाती है ।
4) आपूर्तित आवर्ती स्थिर होती है ।

Correct Answer: एच.वी. (हाई वोल्टेज) साइड पर आपूर्तित वोटलेज, रेटिड वोल्टेज का छोटा हिस्सा होता है और इसलिए इसका फ्लक्स भी ।

QID : 477 - जब एक 400-Hz ट्रांस्फार्मर को 50 Hz आवृति पर प्रचालित किया जाता है, तो इसकी kVA रेटिंग कितनी हो जाती है?

Options:
1) 1/8 तक कम हो जाती है।
2) 8 गुना बढ़ जाती है।
3) प्रभावित नहीं होती है।
4) द्वितीयक पर भार (लोड) द्वारा निर्धारित होती है।

Correct Answer: 1/8 तक कम हो जाती है।

QID : 478 - दिये गए ट्रांस्फार्मर की सामान्य दक्षता कब अधिकतम होती है?

Options:
1) जब यह पूर्ण भार के आधे पर कार्य करता है।
2) जब यह पूर्ण भार पर कार्य करता है।
3) जब इसका कॉपर लॉस आइरन लॉस के बराबर होता है।
4) जब यह अतिभार (ओवरलोड) पर कार्य करता है।

Correct Answer: जब इसका कॉपर लॉस आइरन लॉस के बराबर होता है।

QID : 479 - ट्रांस्फार्मर पर लघुपथ जांच (शॉर्ट सर्किट टेस्ट) संचालित करने के दौरान, निम्नलिखित में से कौन सा साइड लघुपथित होता है?

Options:
1) एच.वी. साइड
2) एल.वी. साइड
3) प्राइमरी साइड
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: एल.वी. साइड

QID : 480 - पारेषण (ट्रांसमिशन) लाइन में क्रॉस-आर्म्स किसके बने होते हैं?

Options:
1) लकड़ी
2) स्टील
3) आर.सी.सी.
4) तांबा (कॉपर)

Correct Answer: स्टील

QID : 481 - विशेष kW रेटिंग वाले इंडक्शन मोटर के लिए, पार्श्व संधारित्र (शंट कैपेसिटर) की kVAR रेटिंग की _______ आवश्यकता होती है।

Options:
1) उच्च निर्धारित गति मोटर (हाई रेटेड स्पीड मोटर) के लिए अधिक
2) निम्न निर्धारित गति मोटर के लिए अधिक
3) गति पर निर्भर नहीं करता
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: निम्न निर्धारित गति मोटर के लिए अधिक

QID : 482 - वितरक (डिस्ट्रीब्यूटर) के डिजाइन का मुख्य मानदंड क्या है?

Options:
1) वोल्टता पात
2) कोरोना लॉस
3) तापमान वृद्धि
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: वोल्टता पात

QID : 483 -एक अत्यंत सूक्ष्म धारा अवयव के कारण चुंबकीय सदिश विभव (मैग्नेटिक वेक्टर पोटेंशियल) का मान क्या होगा, जबकि इससे अनंत दूरी पर इसका मान निकाला जा रहा हो?

Options:
1) अनंत
2) इकाई
3) शून्य
4) धारा अवयव की प्रबलता पर निर्भर और शून्य से अनंत के बीच कोई भी संख्या

Correct Answer: शून्य

QID : 484 - लाइटिंग परिपथ के लिए ऐलुमिनियम केबल का न्यूनतम स्वीकार्य आकार कितना होता है?

Options:
1) 1.1 वर्ग मि.मी.
2) 1.5 वर्ग मि.मी.
3) 2.4 वर्ग मि.मी.
4) 3.6 वर्ग मि.मी.

Correct Answer: 1.5 वर्ग मि.मी.

Candidate Answer: 1.5 वर्ग मि.मी.

QID : 485 - निम्नलिखित में से कौन सी वितरण प्रणाली का उपयोग संयुक्त शक्ति और भार कम करने के लिए होता है?

Options:
1) सिंगल फेज, 2-वायर प्रत्यावर्ती धारा प्रणाली (ए.सी. सिस्टम)
2) तीन फेज, 3-वायर ए.सी. प्रणाली
3) तीन फेज, 4-वायर ए.सी. प्रणाली
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: तीन फेज, 4-वायर ए.सी. प्रणाली

Candidate Answer: तीन फेज, 4-वायर ए.सी. प्रणाली

QID : 486 - प्रेरित ई.एम.एफ. और धारा हमेशा अपने उत्पन्न होने के कारण का विरोध करते हैं, यह नियम किसके द्वारा खोजा गया?

Options:
1) फैराडे
2) लेंज
3) मैक्सवेल
4) लियोनार्ड

Correct Answer: लेंज

QID : 487 - निम्नलिखित में से किस उपकरण में धारा का तापीय प्रभाव (हीटिंग इफेक्ट), एक अवांछित पार्श्व प्रभाव (साइड इफेक्ट) के रूप में दिखाई पड़ती है?

Options:
1) इमर्शन हीटर
2) इलेक्ट्रिक आयरन
3) वैक्यूम क्लीनर
4) इलेक्ट्रिक अवन

Correct Answer: वैक्यूम क्लीनर

QID : 488 - वोल्टता पात, इनमें से किस घटक पर निर्भर करता है?

Options:
1) केवल चालक के प्रतिरोध पर
2) केवल चालक की लंबाई और विशिष्ट प्रतिरोध पर
3) चालक की अनुप्रस्थ काट क्षेत्रफल (क्रॉस सेक्शन एरिया) और चालकता पर
4) चालक के प्रतिरोध और इससे प्रवाहित होने वाली धारा पर

Correct Answer: चालक के प्रतिरोध और इससे प्रवाहित होने वाली धारा पर

QID : 489 - समानांतर परिपथ में, प्रतिरोध के आरपार विभवांतर_______होता है।

Options:
1) परिवर्तित
2) आपूर्तित वोल्टेज से भिन्न
3) इनमें से कोई नहीं
4) हमेशा स्थिर

Correct Answer: हमेशा स्थिर

QID : 490 - दो इलेक्ट्रिक प्रेस समानांतर क्रम में जुड़ी हैं। पहली प्रेस का प्रतिरोध 100 Ω और दूसरी प्रेस का 300 Ω है। दोनों प्रेस द्वारा ली जा रही कुल धारा 4 A है। पहली और दूसरी प्रेस द्वारा ली गईधारा का अनुपात क्या होगा?

Options:
1) 1 : 3
2) 2 : 3
3) 3 : 1.2
4) 3 :1

Correct Answer: 3 :1

QID : 491 - ठहराव (स्टॉप्स) के बीच में वास्तविक चालन समय (रनिंग टाइम) के साथ ट्रेन की, स्टेशन में रुकने के समय को जोड़कर अनुमानित गति क्या कहलाती है?

Options:
1) औसत गति
2) निर्धारित गति (शेड्यूल्ड स्पीड)
3) नोचिंग स्पीड
4) फ्री रनिंग स्पीड

Correct Answer: निर्धारित गति (शेड्यूल्ड स्पीड)

QID : 492 - निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

Options:
1) एक संयुक्त तंत्र (कंपोजिट सिस्टम) जो डीजल इंजिन और दिष्ट धारा (डी.सी.) श्रेणी मोटर के युग्म से बना होता है।
2) एक संयुक्त तंत्र (कंपोजिट सिस्टम) जो, डीजल इंजिन और ए.सी. सिंगल फेज मोटर के युग्म से बना होता है।
3) एक संयुक्त तंत्र (कंपोजिट सिस्टम) जो, प्राप्त एकल फेज पॉवर को डी.सी. अथवा तीन फेज पॉवर ए.सी. सिस्टम में परिवर्तित किया जाता है।
4) एक संयुक्त तंत्र (कंपोजिट सिस्टम) जो, समान लोकोमोटिव पर डी.सी. और ए.सी. मोटर के युग्म से बना होता है।

Correct Answer: एक संयुक्त तंत्र (कंपोजिट सिस्टम) जो, प्राप्त एकल फेज पॉवर को डी.सी. अथवा तीन फेज पॉवर ए.सी. सिस्टम में परिवर्तित किया जाता है।

QID : 493 - दिष्ट धारा (डी.सी.) श्रेणी मोटर के मामले में, निश्चित भार विहीन गति (नो लोड स्पीड) को पाना कब संभव है?

Options:
1) यदि प्रतिरोध इसके फील्ड टर्मिनल के पार (एक्रोस) जोड़ा जाए।
2) यदि प्रतिरोध इसके आर्मेचर टर्मिनल के पार (एक्रोस) जोड़ा जाए।
3) यदि प्रतिरोध इसके फील्ड टर्मिनल और आर्मेचर दोनों के पार (एक्रोस) जोड़ा जाए।
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: यदि प्रतिरोध इसके आर्मेचर टर्मिनल के पार (एक्रोस) जोड़ा जाए।

QID : 494 - विदयुत आरोधन (इलेक्ट्रिक ब्रेकिंग) को तरजीह क्यों दी जाती है?

Options:
1) यह आसान होती है।
2) इसके रख-रखाव की लागत कम होती है।
3) पुनःउत्पादन आरोधन (रिजेनरेटिव ब्रेकिंग) में ऊर्जा की बचत होती है।
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: सभी विकल्प सही है।

QID : 495 - यदि भारतीय रेलवे लोकोमोटिव को WAM1 के नाम से जाना जाता है, तो शब्द W, निम्नलिखित में से क्या इंगित करता है?

Options:
1) लोकोमोटिव को ब्रॉड गेज ट्रैक पर चलना है।
2) लोकोमोटिव को मीटर गेज ट्रैक पर चलना है।
3) लोकोमोटिव शंटिंग ड्यूटी के लिए है।
4) लोकोमोटिव केवल माल वाहक गाड़ी के लिए हॉ।

Correct Answer: लोकोमोटिव को ब्रॉड गेज ट्रैक पर चलना है।

QID : 496 - 3.3 kV और 11 kV के बीच वोल्टता वहन करने वाली केबलों के लिए भूतल से न्यूनतम कितनी गहराई तक गड्ढा खोदा जाना चाहिए?

Options:
1) 0.75 मी. और पूरी केबल की तृज्या
2) 0.45 मी. और पूरी केबल की तृज्या
3) 1.0 मी. और पूरी केबल की तृज्या
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: 0.75 मी. और पूरी केबल की तृज्या

QID : 497 - 1/2 Hz से 10 Hz की निम्न आवृति पर, प्रेरण (इंडकसन) मोटर निम्नलिखित में से क्या निर्मित करता है?

Options:
1) अत्यधिक आरंभिक धारा के साथ उच्च आरंभिक बल आघूर्ण
2) बिना अत्यधिक आरंभिक धारा के साथ उच्च आरंभिक बल आघूर्ण
3) अत्यधिक आरंभिक धारा के साथ निम्न आरंभिक बल आघूर्ण
4) बिना अत्यधिक आरंभिक धारा के साथ निम्न आरंभिक बल आघूर्ण

Correct Answer: बिना अत्यधिक आरंभिक धारा के साथ उच्च आरंभिक बल आघूर्ण

QID : 498 - वेल्डिंग के लिए एक दिष्टकारी (रेक्टिफायर) में वोल्टता/धारा की लाक्षणिकता किसके जैसी होती है?

Options:
1) ड्रूपिंग
2) आरोही (राइजिंग)
3) स्थैतिक (स्टैटिक)
4) चर (वैरिएबल)

Correct Answer: ड्रूपिंग

QID : 499 - आर्गन आर्क वेल्डिंग में आर्गन को प्रयोग करने का उद्देश्य क्या है?

Options:
1) वायु की ऑक्सीज़न के संपर्क में धातु के आने से होने वाले ऑक्सीकरण को रोकना
2) वेल्डिं के कार्य के लिए अक्रिय (इनर्ट) वातावरण का निर्माण करना
3) अभिवाह (फ्लक्स) के प्रयोग की आवश्यकता को खत्म करना
4) सभी विकल्प सही है।

Correct Answer: सभी विकल्प सही है।

QID : 500 - वेल्डिंग ट्रांसफार्मर का उपयोग करने वाले लोड का शक्ति गुणक (पॉवर फैक्टर) किस पर सबसे कम निर्भर करता है?

Options:
1) आर्क (चाप) की लंबाई पर
2) इलेक्ट्रोड के प्रकार पर
3) प्रचालन की संख्या पर
4) वेल्ड किए जाने वाले पदार्थ पर

Correct Answer: वेल्ड किए जाने वाले पदार्थ पर

Click Here To Download Full Paper

Study Kit for SSC Junior Engineer EXAM (Paper-1) 2017-2018

Books for SSC Junior Engineers Exam

<< मुख्य पृष्ठ पर वापस जाने के लिए यहां क्लिक करें


IMP! GET SSC EXAM ALERTS on EMAIL