एस.एस.सी कनिष्ठ अभियन्ता परीक्षा पेपर 2016" 03 मार्च 2017" दोपहर की पाली (सामान्य अभियांत्रिकी ) SSC Junior Engineers (JE) Exam - 2016 "held on 3rd March 2017" Afternoon Shift (General Engineering)



एस.एस.सी कनिष्ठ अभियन्ता परीक्षा पेपर 2016" 03  मार्च 2017" दोपहर की पाली (सामान्य अभियांत्रिकी ) SSC Junior Engineers (JE) Exam - 2016 "held on 3rd March 2017" Afternoon Shift (General Engineering)



QID : 1001 दिये गए ऊष्मा स्थानांतरण सतह में फिन्स के प्रावधान अधिक होंगे यदि _____

Options:
1) पतले फिन्स की संख्या कम हो।
2)मोटे फिन्स की कुछ संख्‍या कम हो।
3)मोटे फिन्स की संख्या अधिक हो।
4)पतले फिन्स की संख्या अधिक हो।

Correct Answer: मोटे फिन्स की संख्या अधिक हो।

QID : 1002 -निम्नलिखित में से किसके परिणामस्वरूप तापीय प्रतिरोधकता में कमी आती है?

Options:
1)संचालन (कंडक्सन) में, सामग्री की मोटाई में कमी और तापीय संवहन में वृद्धि से
2)संवहन (कन्वेक्सन) में, द्रव को धीरे-धीरे हिलाने और गरम हो रही सतह को साफ करने से
3)विकिरण (रेडिएशन) में, तापमान में वृद्धि और उत्सर्जकता (एमीसीविटी) में कमी से।
4)सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: सभी विकल्‍प सही हैं।

QID : 1003 - उबलते तरल के अत्यधिक ऊष्मीय स्थानांतरण के बावजूद, फिन्स का उपयोग लाभदायक होता है, जब पूरी सतह _____________ के लिए खुली हो।

Options:
1)नाभिकीय (न्‍यूक्लिएट) क्‍वथन
2)झिल्ली (फिल्म) क्‍वथन
3) संक्रमिक (ट्रांजिशन) क्‍वथन
4) क्‍वथन के सभी प्रकार

Correct Answer: झिल्ली (फिल्म) क्‍वथन

QID : 1004 - पंखा रहित कक्ष में, एक गरम पाइप में से ऊष्मा क्षय के लिए _____ उत्तरदायी मानदंडों (पैरामीटर) में सम्मिलित होते हैं।

Options:
1) कक्ष की सतह और वायु का तापमान
2) सतह की उत्सर्जकता (एमीसीविटी)
3) पाइप की लंबाई और व्यास
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: सभी विकल्‍प सही हैं।

QID : 1005 -

Options:
1) तापमान में वृद्धि के साथ बढ़ती है।
2) तापमान में वृद्धि के साथ घटती है।
3) बहुत लम्‍बी है।
4) सभी तापमानों पर स्थिर रहती है।

Correct Answer: बहुत लम्‍बी है।

QID : 1006 - एक गरम दिन में, स्कूटर चालक स्टॉप लाइट पर रुकने की तुलना में वाहन चलाते समय अधिक आरामदायक महसूस करता है क्योंकि _____

Options:
1) गतिज अवस्था में कोई वस्तु कम सौर विकिरण ग्रहण करती है।
2) वायु, विकिरण के लिए पारदर्शी होती है और इसलिए वस्तु से अधिक ठंडी होती है।
3) गतिज अवस्था के दौरान संवहन (संवहन (कन्वेक्सन) और विकिरण द्वारा अधिक ऊष्मा क्षय होती है।
4) वायु में निम्न विशिष्ट ऊष्मा होती है और इसलिए यह अधिक ठंडी होती है।

Correct Answer: गतिज अवस्था के दौरान संवहन (संवहन (कन्वेक्सन) और विकिरण द्वारा अधिक ऊष्मा क्षय होती है।

QID : 1007 -विकिरित (रेडिएटिव) ऊष्मा स्थानांतरण में, धूसर (ग्रे) सतह वह होती है जो _____

Options:
1) जो आँखों को धूसर (ग्रे) दिखती है।
2) जिसकी उत्सर्जकता (एमीसीविटी), तरंगदैर्ध्य से स्वतंत्र है।
3) जिसका परावर्तन शून्य के बराबर होता है।
4) जो सभी दिशाओं से बराबर चमकदार प्रकट होती है।

Correct Answer: जिसकी उत्सर्जकता (एमीसीविटी), तरंगदैर्ध्य से स्वतंत्र है।

QID : 1008 - कार्यशील पदार्थ का वह गुण, जो ऊष्मा की आपूर्ति और निष्कासन के अनुसार प्रतिवर्ती (रिवर्सिबल) तरीके से घटता या बढ़ता है, _____ कहलाता है।

Options:
1) तापीय धारिता (एनथेल्पी)
2) उत्क्रमता (एन्ट्रॉपी)
3) प्रतिवर्तियोग्यता (रिवर्सिबलिटी)
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: उत्क्रमता (एन्ट्रॉपी)

Candidate Answer: इनमें से कोई नहीं

QID : 1009 - त्रिक बिन्दु (ट्रिपल पॉइंट) _____

Options:
1) दो या दो से अधिक गैस के मिश्रण में होता है।
2) वह बिन्दु होता है, जहां तीनों अवस्थाएँ एक साथ मौजूद होती हैं ।
3) उत्सादन (सबलीमेशन) में होता है।
4) इनमें से कोई नहीं।

Correct Answer: वह बिन्दु होता है, जहां तीनों अवस्थाएँ एक साथ मौजूद होती हैं ।

QID : 1010 - गैर अर्ध-स्थिर (नॉन क्वासी स्टेटिक) प्रक्रिया, _____ है।

Options:
1) गैस का मुक्त विस्तारण
2) स्थिर दाब के अंतर्गत एक सिलेन्डर में गैस का विस्तारण
3) सिलेन्डर में गैस का शीघ्र संपीड़न
4) सिलेन्डर में गैस का धीरे धीरे संपीड़न

Correct Answer: गैस का मुक्त विस्तारण

QID : 1011 - समउत्क्रमता (आइसेंट्रोपिक) प्रवाह, _____ होता है।

Options:
1) प्रतिवर्ती समोष्ण (एडीएबेटिक) प्रवाह
2) अप्रतिवर्ती समोष्ण (एडीएबेटिक) प्रवाह
3) घर्षणरहित द्रव प्रवाह
4) इनमें से कोई नहीं ।

Correct Answer: प्रतिवर्ती समोष्ण (एडीएबेटिक) प्रवाह

QID : 1012 - सभी प्रतिवर्ती (रिवर्सिबल) प्रक्रियाओं में, सिस्टम की एन्ट्रॉपी _____

Options:
1) बढ़ती है।
2) कम होती है।
3) समान रहती है।
4) इनमें से कोई नहीं ।

Correct Answer: बढ़ती है।

Candidate Answer: इनमें से कोई नहीं ।

QID : 1013 - समतापीय (आइसोथर्मल) प्रक्रिया में, गैस द्वारा किया गया कार्य __________ पर निर्भर करता है।

Options:
1) केवल गैस की आणविकता (एटोमिसिटी)
2) केवल विस्तारण अनुपात
3) समोष्ण (एडीएबेटिक) गुणांक
4) गैस की आणविकता (एटोमिसिटी) और विस्तारण अनुपात दोनों

Correct Answer: गैस की आणविकता (एटोमिसिटी) और विस्तारण अनुपात दोनों

QID : 1014 - एक गैस की दो विशिष्ट ऊष्मा Cp और Cv में अंतर _________ को प्रदर्शित करता है।

Options:
1) गैस अणुओं की गतिज ऊर्जा में वृद्धि
2) गैस अणुओं की स्थितिज ऊर्जा में वृद्धि
3) किया गया बाह्य कार्य
4) आयतन में वृद्धि

Correct Answer: किया गया बाह्य कार्य

QID : 1015 - गैस का सार्वभौमिक गैस स्थिरांक, गैस का आण्विक भार और ____________ का गुणनफल होता है।

Options:
1) गैस स्थिरांक
2) समदाब पर विशिष्ट ऊष्मा
3) समान आयतन पर विशिष्ट ऊष्मा
4) इनमें से कोई नहीं ।

Correct Answer: गैस स्थिरांक

QID : 1016 - गैस का तापमान ____________ का मापक है।

Options:
1) गैस के अणुओं के बीच औसत दूरी
2) गैस के अणुओं की औसत गतिज ऊर्जा
3) गैस के अणुओं की औसत स्थितिज ऊर्जा
4) इनमें से कोई नहीं ।

Correct Answer: गैस के अणुओं की औसत गतिज ऊर्जा

QID : 1017 - प्रथम प्रकार की एक सतत गति मशीन अर्थात एक ऐसी मशीन जो बिना ऊर्जा उपभोग के शक्ति उत्पन्न करे _____

Options:
1) ऊष्मप्रवैगिकी के पहले नियम के अनुसार संभव है।
2) ऊष्मप्रवैगिकी के पहले नियम के अनुसार असंभव है।
3) ऊष्मप्रवैगिकी के दूसरे नियम के अनुसार असंभव है।
4) ऊष्मप्रवैगिकी के दूसरे नियम के अनुसार संभव है।

Correct Answer: ऊष्मप्रवैगिकी के पहले नियम के अनुसार असंभव है।

QID : 1018 - एक से अधिक अवस्था वाला निकाय (सिस्टम) ____________ कहलाता है।

Options:
1)वियुक्त निकाय (आइसोलेटिड सिस्टम)
2)अनावृत निकाय (ओपन सिस्टम)
3) असमान निकाय (नॉन-यूनिफ़ोर्म सिस्टम)
4) विजातीय निकाय (हेट्रोजीनस सिस्टम)

Correct Answer: विजातीय निकाय (हेट्रोजीनस सिस्टम)

QID : 1019 - दो या दो से अधिक वस्तुओं को एक साथ संपर्क में लाने पर तापीय साम्यावस्था होती है जब ___________ में परिवर्तन नहीं होता है।

Options:
1) घनत्व
2) दाब
3) तापमान
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: तापमान

QID : 1020 - नियंत्रित आयतन का ___________ से संदर्भ है।

Options:
1) विशिष्ट द्रव्यमान
2) स्पेस में स्थिर क्षेत्र
3) बंद निकाय (क्लोज्ड सिस्टम)
4) इनमें से कोई नहीं।

Correct Answer: स्पेस में स्थिर क्षेत्र

QID : 1021 - ऊष्‍मा विनिमायक प्रकार के, पुन: उत्‍पादक (रीजनरेटर) में ऊष्‍मा स्‍थानान्‍तरण कैसे होती है?

Options:
1) गर्म और ठण्‍ड़े द्रव का सीधा मिश्रण
2) गर्म और ठण्‍ड़े द्रव के बीच में पूरी तरह भिन्‍नता
3) सतह के ऊपर बारी बारी से गर्म और ठण्‍ड़े द्रव का बहना
4) बार बार ऊष्‍मा का उत्‍पन्‍न होना

Correct Answer: सतह के ऊपर बारी बारी से गर्म और ठण्‍ड़े द्रव का बहना

QID : 1022 - झिल्ली गुणांक (फिल्म कोफ़िसिएंट), _____________ अनुपात होता है।

Options:
1) द्रव की झिल्ली (फिल्म) की मोटाई का तापीय संवहन से
2) द्रव की झिल्ली (फिल्म) की मोटाई का द्रव की झिल्ली (फिल्म) में तापमान की कमी से
3) द्रव की झिल्ली (फिल्म) के तापीय संवहन का तापमान की कमी से
4) द्रव की झिल्ली (फिल्म) के तापीय संवहन का समतुल्य मोटाई से

Correct Answer: द्रव की झिल्ली (फिल्म) के तापीय संवहन का समतुल्य मोटाई से

QID : 1023 - _______________ की उच्चतम तापीय विसरणशीलता (थर्मल डिफ्यूसिटिविटी) होती है।

Options:
1) लौह
2) सीसा (लीड)
3) कंक्रीट
4) लकड़ी

Correct Answer: सीसा (लीड)

QID : 1024 - ____________ की उच्चतम तापीय संचालकता (थर्मल कंडक्टिविटी) होती है।

Options:
1) ठोस बर्फ
2) पिघलती बर्फ
3) जल
4) वाष्प

Correct Answer: ठोस बर्फ

QID : 1025 - संपीडक के मामले में, प्रति चक्र किए गए कार्य का स्‍वैप्‍ट वोल्‍यूम से अनुपात क्‍या कहलाता है?

Options:
1) संपीडन सूची
2) संपीडन अनुपात
3) संपीडन दक्षता
4) माध्‍य प्रभावी दाब

Correct Answer: माध्‍य प्रभावी दाब

QID : 1026 -

Options:
1) चूषण वाल्‍व या पिस्‍टन के छल्‍ले या दोनों टपक रहे हैं
2) संपीडन आघात के दौरान सिलेंडर में निर्वहन वाल्‍व रिस रही है
3) धीमी खुली वाल्‍व
4) संपीडक आघात के प्रारम्‍भ में चूषण वाल्‍व स्टिकिकिंगओपन है

Correct Answer: संपीडन आघात के दौरान सिलेंडर में निर्वहन वाल्‍व रिस रही है

QID : 1027 - धातुएँ अच्छे ऊष्मा चालक होते हैं, क्योंकि _____

Options:
1) इसमें मुक्त इलेक्ट्रॉन होते हैं।
2) इसके अणु समान्यत: दूर-दूर होते हैं।
3) इसके अणु प्रायः टकराते रहते हैं।
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: इसके अणु प्रायः टकराते रहते हैं।

QID : 1028 - एक वियुक्त (इंसुलेटिड) पाइप से बाहरी स्थिर वायु में ऊष्मा का स्थानांतरण _______ के द्वारा होता है।

Options:
1) संचालन (कंडक्सन)
2) संवहन (कन्वेक्सन)
3) विकिरण
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: विकिरण

QID : 1029 - ____________ में ऊष्मा स्थानांतरण संचालन (कंडक्सन), संवहन (कन्वेक्सन) और विकिरण (रेडिएशन) के द्वारा होता है।

Options:
1) बॉयलर भट्टियाँ (फर्नेसेज)
2) बर्फ के पिघलने
3) संघनक (कंडेंसर) में वाष्प के संघनन
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: बॉयलर भट्टियाँ (फर्नेसेज)

QID : 1030 - दृष्टिसंबंधी उत्तापमापी (ऑप्टिकल पाइरोमीटर) में, अवशोषक फिल्टर का प्रयोग ____________ में होता है।

Options:
1) एकवर्णीय (मोनोक्रोमेटिक) प्रकाश प्राप्त करने
2) फिजूल प्रकाश की किरणों को समाप्त करने
3) लेंस सतह से किरणों के परावर्तन को न्यूनतम करने
4) कम तीव्रता (ईंटेंसिटी) पर अधिक समय के लिए तन्तु प्रचालन (फ़िलामेंट ऑपरेशन) को समर्थित करने

Correct Answer: कम तीव्रता (ईंटेंसिटी) पर अधिक समय के लिए तन्तु प्रचालन (फ़िलामेंट ऑपरेशन) को समर्थित करने

QID : 1031 - 3000 मि.मी. व्यास वाले पाइप में जल के प्रवाह को _______ से मापा जा सकता है।

Options:
1)वेंट्यूरीमीटर
2)रोटामीटर
3)पाइलट ट्यूब
4)ओरिफिस प्लेट

Correct Answer: पाइलट ट्यूब

QID : 1032 - उत्प्लावन बल (बोंयंट फोर्स) _____ होता है।

Options:
1) वस्तु पर कार्य कर रहे गुरुत्व बल और उत्क्षेप (अपथ्रस्ट) का योग
2) वस्तु पर चारों ओर के द्रव के कारण लगने वाला कुल बल
3) वस्तु का स्थैतिक भार और द्रव के गत्यात्मक उत्क्षेप (डाइनैमिक थ्रस्ट) का योग
4) वस्तु द्वारा विस्थापित द्रव के आयतन के बराबर

Correct Answer: वस्तु द्वारा विस्थापित द्रव के आयतन के बराबर

QID : 1033 - साम्यावस्था (इक्विलिब्रियम) स्थिति में, द्रव _______ को संभालने के योग्य नहीं होते हैं।

Options:
1) अपरूपण (शीयर) बल
2) विस्कोसिटी के प्रतिरोध
3) सतह तनाव
4) ज्यामितीय समानता

Correct Answer: सतह तनाव

QID : 1034 - उच्च रेनोल्ड संख्या _________ को इंगित करती है।

Options:
1)शांत और सुवाही प्रवाह
2)पर्णदलीय (लेमिनार) प्रवाह
3) स्थिर प्रवाह
4) उच्च अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट) प्रवाह

Correct Answer: उच्च अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट) प्रवाह

QID : 1035 - नेवियर स्टोक्स समीकरण में _________ को द्रव बल माना जाता है।

Options:
1) गुरुत्वाकर्षण, दबाव और श्यानता (विसकस)
2) गुरुत्वाकर्षण, दबाव और अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट)
3) दबाव, श्यानता (विसकस) और अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट)
4) गुरुत्वाकर्षण, श्यानता (विसकस) और अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट)

Correct Answer: गुरुत्वाकर्षण, दबाव और श्यानता (विसकस)

QID : 1036 - प्रशांत प्रवाह (ट्रेंकवल फ़्लो) हमेशा ___________ होता है।

Options:
1) सामान्य गहराई पर
2) सामान्य गहराई से ऊपर
3) सामान्य गहराई से नीचे
4) समीक्षात्मक (क्रिटिकल) गहराई से ऊपर

Correct Answer: समीक्षात्मक (क्रिटिकल) गहराई से ऊपर

QID : 1037 -

Options:
1) 275.9 KN

2) 58.9 KN

3) 217 KN

4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: 217 KN

QID : 1038 -एक छिद्र/ रंध्र (ओरिफिस) का निर्वहन गुणांक (C_d), ___________ के साथ परिवर्तित होता है।

Options:
1) रेनॉल्ड नंबर
2) वेबर नंबर
3) फ़्रौड़ नंबर
4) मैक नंबर

Correct Answer: रेनॉल्ड नंबर

QID : 1039 - पाइप में अवशवर्ती/अशांत(टर्ब्युलेंट) प्रवाह से शीर्ष क्षय (हेड लॉस) _____

Options:
1) वेग के समानुपाती परिवर्तित होता है।
2) वेग के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती परिवर्तित होता है।
3) वेग के वर्ग के समानुपाती परिवर्तित होता है।
4) वेग के व्युत्क्रमानुपाती परिवर्तित होता है।

Correct Answer: वेग के वर्ग के समानुपाती परिवर्तित होता है।

QID : 1040 - प्रवाह का वह प्रकार, जिसमें द्रव कण प्रवाह के दौरान प्रवाह की दिशा के साथ द्रव्यमान केंद्र के चारों ओर घूर्णन करते हैं, क्‍या कहलाता है?

Options:
1) स्थायी प्रवाह
2) एकसमान प्रवाह
3) पर्णदलीय (लेमिनार) प्रवाह
4) घूर्णी (रोटेशनल) प्रवाह

Correct Answer: घूर्णी (रोटेशनल) प्रवाह

Click Here To Download Full Paper

Study Kit for SSC Junior Engineer EXAM (Paper-1) 2017-2018

Books for SSC Junior Engineers Exam

QID : 1041 - किसी प्रवाह के घूर्णित (रोटेशनल) होने के लिए, क्षेत्र के तल की अधोलंब गति, _________ के बराबर होनी चाहिए।

Options:
1) कोणिक (एंगुलर) गति सदिश (वेक्टर)
2) कोणिक (एंगुलर) गति सदिश (वेक्टर) के आधे
3) कोणिक (एंगुलर) गति सदिश (वेक्टर) के दोगुने
4) शून्य

Correct Answer: कोणिक (एंगुलर) गति सदिश (वेक्टर) के दोगुने

QID : 1042 - वह द्रव, जिसकी विरूपण प्रतिरोधकता, अपरूपण तनाव (शियर स्ट्रेस) पर निर्भर नहीं करती है, _______ कहलाता है।

Options:
1) बिंघम प्लास्टिक द्रव
2) आभासी प्लास्टिक द्रव
3) विस्फारक (डिलाटेंट) द्रव
4) न्यूटोनियन द्रव

Correct Answer: न्यूटोनियन द्रव

QID : 1043 - रैखिक संवेग में परिवर्तन की दर __________के बराबर होती है।

Options:
1) सक्रिय बल
2) प्रतिक्रिया बल
3) बल-आघूर्ण (टोर्क)
4)किए गए कार्य

Correct Answer: सक्रिय बल

Candidate Answer: बल-आघूर्ण (टोर्क)

QID : 1044 - उत्प्लावन बल, _____ निर्भर करता है।

Options:
1) विस्थापित द्रव के द्रव्यमान पर
2) द्रव की श्यानता (विस्कोसिटी) पर
3) द्रव के सतही तनाव पर
4) विसर्जन (इमर्सन) की गहराई

Correct Answer: विस्थापित द्रव के द्रव्यमान पर

QID : 1045 -  अवतल सतह पर वाष्प दबाव _____________ होता है।

Options:
1) समतल सतह पर वाष्प दबाव से कम
2) समतल सतह पर वाष्प दबाव के बराबर
3) समतल सतह पर वाष्प दबाव से अधिक
4) शून्य

Correct Answer: समतल सतह पर वाष्प दबाव से कम

QID : 1046 - बरनोली समीकरण को तब लागू नहीं किया जा सकता है, जब प्रवाह __________ होता है।

Options:
1) घूर्णित (रोटेशनल)
2) अवशवर्ती/अशांत (टर्ब्युलेंट)
3) अस्थिर
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: अवशवर्ती/अशांत (टर्ब्युलेंट)

QID : 1047 - जब किसी वस्तु को द्रव में थोड़ा सा विस्थापित किया जाता है, तो यह ________ के अनुरूप कंपन करती है।

Options:
1) वस्तु के गुरुत्वाकर्षण केंद्र
2) दबाव के केंद्र
3) उत्प्लावन केंद्र
4) अधिकेन्द्र (मेटासेंटर)

Correct Answer: अधिकेन्द्र (मेटासेंटर)

QID : 1048 -सबसे भारी द्रव _____ है।

Options:
1)वायु
2) अरंडी का तेल (केसटर ऑइल)
3) ग्लिसरीन
4) कार्बन टेट्राक्लोराइड

Correct Answer: कार्बन टेट्राक्लोराइड

QID : 1049 -  द्रवघनत्वमापी (हाइड्रोमीटर) का उपयोग, _________ को निर्धारित करने में किया जाता है।

Options:
1) सापेक्ष आर्द्रता
2) उत्प्लावन बल
3) द्रव के विशिष्ट गुरुत्व
4) द्रव की श्यानता (विस्कोसिटी)

Correct Answer: द्रव के विशिष्ट गुरुत्व

Candidate Answer: द्रव के विशिष्ट गुरुत्व

QID : 1050 -टारपीडो के एक मॉडल का नोकर्षण टैंक में 25 मी/से. के वेग पर परीक्षण किया गया। टारपीडो से 5 मी/से. का वेग प्राप्‍त करने की उम्‍मीद की गई है। मॉडल पैमाना क्‍या प्रयोग किया गया है?

Options:
1) 1 : 5

2) 1: 2.5

3) 1: 25

4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: 1 : 5

QID : 1051 - घर्षण घटक, f = 0.04 वाले 20 से.मी. व्यास के पाइप से जल प्रवाहित हो रहा है, प्रवाह _____________ होगा।

Options:
1) श्यान (विसकस)
2) अश्यान (नॉन विसकस)
3) श्यान (विसकस) और गैर श्यान (नॉन विसकस) दोनों
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: श्यान (विसकस)

QID : 1052 - 2.25 स्टॉक्स वाली शुद्ध गतिक श्यानता (काइनेमेटिक विस्कोसिटी) का कच्चा तेल, एक 20 से.मी. व्यास वाले पाइप से प्रवाहित हो रहा है, जिसके प्रवाह की दर 1.5 लीटर/ सेकंड है। प्रवाह _____ होगा।

Options:
1) पर्णदलीय (लेमिनार)
2) अवशवर्ती/ अशांत (टर्ब्युलेंट)
3) अनिश्चित
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: पर्णदलीय (लेमिनार)

QID : 1053 - सबसे प्रतिकूल हाइड्रोलिक परिस्थितियों के अंतर्गत एक हाइड्रोलिक संयंत्र से उपलब्ध अधिकतम निरंतर बिजली __________ कहलाती है।

Options:
1) आधार शक्ति
2) फर्म शक्ति
3) प्रधान (प्राइमरी) शक्ति
4) गौण (सेकंडरी) शक्ति

Correct Answer: फर्म शक्ति

QID : 1054 - एम॰डबल्यू॰ की जनित शक्ति व समय के मध्य आलेख को ________ के रूप में जाना जाता है।

Options:
1) लोड वक्र (कर्व)
2) लोड अवधि वक्र (कर्व)
3) लोड घटक (फेक्टर)
4) मांग वक्र (डिमांड कर्व)

Correct Answer: लोड वक्र (कर्व)

QID : 1055 - प्रति वर्ष औसत जनित (किलोवाट घंटा में)' का 'संस्थापित क्षमता (किलोवाट में) व घंटे प्रति वर्ष के गुणनफल' से अनुपात को _______ के रूप में जाना जाता है।
A. संयंत्र घटक (प्लांट फेक्टर)
B. क्षमता घटक (केपेसिटी फेक्टर)
C. उपयोग घटक (यूज फेक्टर)

Options:
1)केवल A
2)A अथवा B
3)A अथवा B अथवा C
4)केवल C

Correct Answer: A अथवा B अथवा C

QID : 1056 - संस्थापित आरक्षित का वह भाग जो प्रचालन परिस्थिति में हो परंतु पीक लोड की आपूर्ति की सेवा में स्थापित न हो, _____ कहलाता है।

Options:
1) प्रचालन आरक्षित
2) कताई (स्पीनिंग) आरक्षित
3) प्रशीतन आरक्षित
4) तप्त आरक्षित

Correct Answer: प्रशीतन आरक्षित

QID : 1057 - सेवाधीन जल संयंत्र में शिखर लोड से अधिक क्षमता, _____ कहलाती है।

Options:
1)प्रचालन आरक्षित
2)स्पीनिंग आरक्षित
3)प्रशीतन आरक्षित
4) तप्त आरक्षित

Correct Answer: प्रचालन आरक्षित

QID : 1058 -
आवेग (इमपल्स) टर्बाइन का उपयोग _______ में किया जाता है।

Options:
1) जल के निम्न शीर्ष (हेड)
2) जल के उच्च शीर्ष (हेड)
3) जल के मध्य शीर्ष (हेड)
4) उच्च निर्वहन (डिस्चार्ज)

Correct Answer: जल के उच्च शीर्ष (हेड)

QID : 1059 -
प्रतिक्रिया (रिएक्शन) टर्बाइन में, प्रारूप (ड्राफ्ट) ट्यूब का उपयोग _____।

Options:
1)टर्बाइन को पूरा चलाने में किया जाता है
2)वायु को टर्बाइन में प्रवेश करने से रोकती है
3)जल के प्रभावी शीर्ष (हेड) को बढ़ाने में किया जाता है
4)जल को नीचे की ओर वाहित कराए जाने में किया जाता है

Correct Answer: जल के प्रभावी शीर्ष (हेड) को बढ़ाने में किया जाता है

QID : 1060 -
टर्बाइन के अंदर की ओर प्रवाह प्रतिक्रिया में क्‍या होता है?

Options:
1) जल, पहिये (व्हील) के अक्ष के समांतर प्रवाहित होता है।
2) जल पहिये (व्हील) के केंद्र में प्रवेश करता है और पहिये (व्हील) के बाह्य परिधि की ओर प्रवाहित होता है।
3) जल पहिये (व्हील) के बाह्य परिधि की ओर से प्रवेश करता है और पहिये (व्हील) के केंद्र की ओर प्रवाहित होता है।
4) जल का प्रवाह आंशिक रूप से त्रिज्यीय (रेडियल) और आंशिक अक्षीय होता है।

Correct Answer: जल पहिये (व्हील) के बाह्य परिधि की ओर से प्रवेश करता है और पहिये (व्हील) के केंद्र की ओर प्रवाहित होता है।

QID : 1061 -
औटोमोबाइल में केसटर और केमबर टर्म किस से संबन्धित हैं?

Options:
1)गेयर
2)इंजिन
3)निलंबन (सस्पेंशन)
4)पहिये (व्हील)

Correct Answer: पहिये (व्हील)

QID : 1062 -
पश्चाग्र (रेसिप्रोकेटिंग) इंजिन में, प्रधान (प्राइमरी) बल _____

Options:
1) पूर्णत: संतुलित होते हैं।
2) पूर्णत: आंशिक संतुलित होती है।
3) गौण (सेकंडरी) बलों द्वारा संतुलित होते हैं।
4) संतुलित नहीं किए जा सकते हैं।

Correct Answer: पूर्णत: आंशिक संतुलित होती है।

QID : 1063 -
घर्षण वृत्त वह वृत्त है, जहां जर्नल, बीयरिंग में घूर्णन करते हैं। इसकी त्रिज्या, घर्षण गुणांक और _____ पर निर्भर करती है।

Options:
1) जर्नल पर बलों के परिमाण
2) जर्नल के कोणिक गुणांक
3) जर्नल और बीयरिंग के समाशोधन
4) जर्नल की त्रिज्या

Correct Answer: जर्नल की त्रिज्या

QID : 1064 - समान्यत: घड़ी में लगाई जाने वाली गेयर ट्रेन ____________ होती है।

Options:
1)रेवर्टेड गेयर ट्रेन
2)सरल गेयर ट्रेन
3)सूर्य व ग्रह गेयर
4)भिन्नक (डिफ़्रेंशियल) गेयर

Correct Answer: रेवर्टेड गेयर ट्रेन

QID : 1065 - विवेचनात्मक अवमंदन (क्रिटिकल डेंपिंग), _____________ का प्रकार्य (फंकशन) होता है।

Options:
1)द्रव्यमान और कठोरता (स्टीफनेस)
2)द्रव्यमान और अवमंदन (डेंपिंग) गुणांक
3)कठोरता और प्राकृतिक आवृति
4)प्राकृतिक आवृति और अवमंदन (डेंपिंग) गुणांक

Correct Answer: द्रव्यमान और कठोरता (स्टीफनेस)

QID : 1066 - घूर्णन शाफ़्ट, भंवर गति से उग्र कंपन करने लगता है, क्योंकि _____

Options:
1) शाफ़्ट, परिवर्तित गति से घूर्णन करता है।
2) बीयरिंग केंद्र रेखा, शाफ़्ट अक्ष से संरेखित होता है।
3) निकाय (सिस्टम) असंतुलित होता है।
4) रोटर (घूर्णक) के अत्यधिक भार के कारण अनुनाद होता है।

Correct Answer: रोटर (घूर्णक) के अत्यधिक भार के कारण अनुनाद होता है।

QID : 1067 - समीक्षात्मक (क्रिटिकल) अथवा भंवर गति वह गति होती है, जिस पर शाफ्ट __________ में उग्र कंपन करने की ओर अग्रेषित होता है।

Options:
1) अनुप्रस्थ दिशा
2) लम्बवत
3) रैखिक दिशा
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: अनुप्रस्थ दिशा

QID : 1068 - जब एक कंपित बल, स्प्रिंग से प्रेषित होता है, तो अवमंदन (डेंपिंग) नुकसानदेह हो जाता है जब इसकी आवृति का प्राकृतिक आवृति के साथ अनुपात _____ से अधिक होता है।

Options:
1) 0.25

2) 0.5

3) 1

4) √2

Correct Answer: √2

QID : 1069 -
स्थिर (स्टेटिक) लोडिंग में प्रतिबल संतृप्तता (स्ट्रेस कोन्संट्रेशन) __________ में अधिक गंभीर होती है।

Options:
1) नमनीय सामग्री
2) भंगुर सामग्री
3) दोनों मामलों में समान रूप से गंभीर
4) अन्य कारकों पर निर्भर

Correct Answer: भंगुर सामग्री

QID : 1070 - निम्नलिखित में से कौन सी कुंजी (की) केवल घर्षण प्रतिरोध में शक्ति संचारित (ट्रांसमीट) करती है?

Options:
1) काठी (सेडल) कुंजी (की)
2) बार्थ कुंजी (की)
3) केनेडी कुंजी (की)
4) स्‍पर्श कुंजी (की)

Correct Answer: काठी (सेडल) कुंजी (की)

QID : 1071 - निम्नलिखित में किस कारण से कुंजी (की) असफल हो जाएगी?

Options:
1) अपरूपण (शीयरिंग)
2) मृदुकणीकरण (क्रशिंग)
3) मृदुकणीकरण (क्रशिंग) और अपरूपण (शियरिंग) दोनों
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: मृदुकणीकरण (क्रशिंग) और अपरूपण (शियरिंग) दोनों

QID : 1072 - द्रवस्थैतिक (हाइड्रोस्टेटिक) बीयरिंग में प्रारम्भिक घर्षण ____________ होता है।

Options:
1) बहुत कम
2) अधिक
3) कम अथवा अधिक
4) अनिश्चित

Correct Answer: बहुत कम

QID : 1073 -
पिच्‍छ कुंजी (फेदर की) समान्यत: _____।

Options:
1) शाफ़्ट में कसी हुई (टाइट) और हब (नाभि) में ढीली होती हैं।
2) शाफ्ट में ढीली और हब (नाभि) में कसी हुई (टाइट) होती हैं।
3) शाफ्ट और हब (नाभि) दोनों में कसी हुई (टाइट) होते हैं।
4) शाफ्ट और हब (नाभि) दोनों में ढीली होती हैं।

Correct Answer: शाफ़्ट में कसी हुई (टाइट) और हब (नाभि) में ढीली होती हैं।

QID : 1074 -
वियर सिद्धांत की तुलना में एकसमान दाब सिद्धान्त ___________ प्रदान करता है।

Options:
1) उच्चतर घर्षण बल-आघूर्ण (टोर्क)
2) निम्न घर्षण बल-आघूर्ण (टोर्क)
3) निम्न अथवा उच्चतर घर्षण बल-आघूर्ण (टोर्क)
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: उच्चतर घर्षण बल-आघूर्ण (टोर्क)

QID : 1075 -
टेपर्ड रोलर बीयरिंग _________ ले सकते हैं।

Options:
1) केवल अर्द्धव्‍यास भार (रेडियल लोड)
2) केवल अक्षीय लोड
3) रेडियल और अक्षीय लोड दोनों, जब दोनों का अनुपात इकाई से कम हो।
4) रेडियल और अक्षीय लोड दोनों, जब दोनों का अनुपात इकाई से अधिक हो।

Correct Answer: रेडियल और अक्षीय लोड दोनों, जब दोनों का अनुपात इकाई से कम हो।

QID : 1076 - A और B दो शाफ़्ट समान सामग्री से बने हुए हैं। शाफ्ट B का व्यास शाफ़्ट A की तुलना में दुगना है। शाफ्ट B की तुलना में शाफ्ट A द्वारा प्रेषित (ट्रांसमिट) शक्ति का अनुपात ______ होगा I

Options:
1) 1/2
2) 1/4
3) 1/8
4) 1/16

Correct Answer: 1/8

QID : 1077 -
समांतर में जुड़े दो शाफ़्ट के लिए, निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?

Options:
1) प्रत्येक शाफ़्ट में बल-आघूर्ण (टोर्क) समान होगा।
2) प्रत्येक शाफ़्ट में अपरूपण प्रतिबल (शियर स्ट्रैस) समान होगा।
3) प्रत्येक शाफ़्ट में एंगल ऑफ ट्विस्ट समान होगा।
4) प्रत्येक शाफ़्ट की आघूर्ण बलित कठोरता समान होगी।

Correct Answer: प्रत्येक शाफ़्ट में एंगल ऑफ ट्विस्ट समान होगा।

QID : 1078 -
एक कॉलम के लिए बकलिंग लोड (भार) अधिकतम होगा यदि _____

Options:
1) कॉलम का एक सिरा बंधा और दूसरा मुक्त हो।
2) कॉलम के दोनों सिरे बंधे हों।
3) कॉलम के दोनों सिरे कब्जित (हिन्ज) हों।
4) कॉलम का एक सिरा कब्जित (हिन्ज) और दूसरा खुला हो।

Correct Answer: कॉलम के दोनों सिरे बंधे हों।

QID : 1079 - प्रधान खिंचाव (प्रिन्सिपल स्ट्रेन) और इसकी दिशा को निर्धारित करने के लिए एक समतल सतह पर __________ संख्या वाले खिंचाव पाठ्यांक (स्ट्रेन गेज का उपयोग कर) की आवश्यकता होती है।

Options:
1) 1

2) 2

3) 3

4) 4

Correct Answer: 3

QID : 1080 -
यदि पोईसा अनुपात का मान शून्य हो, तो इसका अर्थ है _____

Options:
1) वस्तु ठोस है।
2) वस्तु पूर्णत: प्लास्टिक है।
3) सामग्री में लम्बवत तनाव (स्ट्रेन) नहीं है।
4) इनमें से कोई नहीं।

Correct Answer: इनमें से कोई नहीं।

QID : 1081 - निम्नलिखित में से कौन भंगुर सामग्री में लागू होता है ?

Options:
1) अधिकतम प्रधान प्रतिबल (स्ट्रेस) सिद्धांत
2) अधिकतम प्रधान खिंचाव (स्ट्रेन) सिद्धांत
3) अधिकतम खिंचाव (स्ट्रेन) ऊर्जा सिद्धांत
4) अधिकतम अपरूपण प्रतिबल (शियर स्ट्रेस) सिद्धांत

Correct Answer: अधिकतम प्रधान प्रतिबल (स्ट्रेस) सिद्धांत

QID : 1082 - भंगुर सामग्री से बने शाफ़्ट का डिजाइन _______ पर आधारित होता है।

Options:
1) गेस्ट सिद्धान्त
2) रेंकाइन सिद्धान्त
3) सेंट वेनन्ट सिद्धान्त
4) वॉन मिसेस सिद्धान्त

Correct Answer: रेंकाइन सिद्धान्त

QID : 1083 -
एक खोखले वृत्ताकार भाग, जिसका केन्‍द्रीय अक्ष पर बाह्य व्‍यास 8 से.मी. है और आंतरिक व्यास 6 से.मी. है तो जड़त्व आधूर्ण ______से.मी.4 होगा I

Options:
1) 437.5
2) 337.5
3) 237.5
4) 137.5

Correct Answer: 437.5

QID : 1084 -
जब एक वस्‍तु दूसरी वस्‍तु की सतह पर फिसलना प्रारम्‍भ करती है तो उत्‍तरदायी अधिकतम घर्षण बल _____ जाना जाता है।

Options:
1) सर्पी घर्षण
2) दोलन घर्षण
3) सीमांत घर्षण
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: सीमांत घर्षण

QID : 1085 -

Options:
1) गुरूत्‍व केन्‍द्र, वास्‍तविक वर्ग की बिना कटी हुई प्रत्‍येक भुजा से 5/12 की दूरी पर स्थित है।
2) गुरूत्‍व केन्‍द्र, वास्‍तविक वर्ग की बिना कटी हुई प्रत्‍येक भुजा से 7/12 की दूरी पर स्थित है।
3) गुरूत्‍व केन्‍द्र, वास्‍तविक वर्ग की बिना कटी हुई प्रत्‍येक भुजा से 3/4 की दूरी पर स्थित है।
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: गुरूत्‍व केन्‍द्र, वास्‍तविक वर्ग की बिना कटी हुई प्रत्‍येक भुजा से 5/12 की दूरी पर स्थित है।

QID : 1086 -
एक स्‍टील की छड़, जिसका व्‍यास 20 मि.मी. है, वह अपने केन्‍द्र में भार वहन करते हुए कुल 40 से.मी. तक विस्‍तृत व किनारों पर समर्थित है। यदि छड़ में सम्मिलित अधिकतम प्रतिबल 480/π N/mm2 सीमित किया गया है तो छड़ में संचित बंकन विकृति ऊर्जा क्‍या होगी?

Options:
1) 411 N mm
2) 511 N mm
3) 611 N mm
4) 711 N mm

Correct Answer: 611 N mm

QID : 1087 -
चार्पी परीक्षण ___________ को मापने के लिए किया जाता है।

Options:
1) कठोरता
2) विसर्पण (क्रीप) क्षमता
3) श्रांति (फटिग) प्रतिरोध
4) सामग्री की प्रत्‍यास्‍थ (इलास्टिक) क्षमता

Correct Answer: कठोरता

QID : 1088 -
अचानक आरोपित भार द्वारा जनित प्रतिबल (स्ट्रेस), समान भार (लोड) द्वारा क्रमिक रूप से आपूर्तित किए जाने पर जनित प्रबल की तुलना में _________ गुना होता है।

Options:
1) 1.5

2) 2
3) 3
4) 4

Correct Answer: 2

QID : 1089 -
किसी स्तम्भ (बीम) के निश्चित भाग में बंकन आघूर्ण (बेंडिंग मोमेंट) स्थिर है। इस भाग के लिए अपरूपण (शियर) बल _______ ।

Options:
1) शून्य होगा।
2) बढ़ेगा ।
3) घटेगा ।
4) स्थिर रहेगा।

Correct Answer: शून्य होगा।

QID : 1090 -
किसी निलंबन (केंटीलीवर) के मुक्त अंत पर बल में वृद्दि के कारण समान्यत: _____ विफलता (फेलयर) होगी।

Options:
1) मुक्त अंत पर
2) लंबाई के मध्य में
3) स्थायी आश्रयी अंत पर
4) स्तम्भ (बीम) में कहीं भी

Correct Answer: स्थायी आश्रयी अंत पर

QID : 1091 -
वैद्युत-निर्वहन मशीनिंग प्रक्रिया में, वर्कपीस और इलेक्ट्रोड को _________ में डुबाया जाता है।

Options:
1) असंवाहक (डाई-इलेक्ट्रिक) द्रव
2) अपघर्षक घोल
3) विद्युत-अपघटनी विलयन
4) निर्वात

Correct Answer: असंवाहक (डाई-इलेक्ट्रिक) द्रव

QID : 1092 -
स्वेगिंग, _________ का संचालन (ऑपरेशन) होता है।

Options:
1)तप्त ढलाई (हॉट रोलिंग)
2)गढ़ाई (फोर्जिंग)
3)बाह्यनिष्कासन
4)छेदने (पीयर्सिंग)

Correct Answer: गढ़ाई (फोर्जिंग)

QID : 1093 -
आर्क वेल्डिंग प्रचालन में, धारा के मान को ______ द्वारा निर्धारित किया जाता है।

Options:
1)प्लेट की मोटाई
2) वेल्डेड़ भाग की लंबाई
3) आर्क पर वोल्टेज
4) इलेक्ट्रोड के आकार

Correct Answer:
इलेक्ट्रोड के आकार

QID : 1094 -
समान सामग्री परंतु भिन्न मोटाई की दो चादरों को कुंडा (बट्ट) वेल्ड द्वारा ___________ से जोड़ा जाता है।

Options:
1) धारा के समायोजन
2) धारा की समयावधि
3) आरोपित दाब
4) एक इलेक्ट्रोड के आकार को बदलकर

Correct Answerएक इलेक्ट्रोड के आकार को बदलकर

QID : 1095 -
एमआईजी वेल्डिंग के संबंध में अनुचित कथन का चुनाव करें।

Options:
1)अभिवाह (फ्लक्स) की आवश्यकता नहीं होती है।
2)उच्च वैल्डिंग गति।
3)बढ़ी हुई जंग प्रतिरोधकता ।
4)अस्वच्छ सतह को भी अच्छा वेल्ड किया जा सकता है।

Correct Answer: अभिवाह (फ्लक्स) की आवश्यकता नहीं होती है।

QID : 1096 -
अपचयन विधि द्वारा वात-भट्टी में उपयोगी धातु में बदलने के दौरान परिवर्तित होने वाला लौह अयस्क का प्रथम उत्पाद __________ कहलाता है।

Options:
1) ढलवां लोहा
2) गढ़ा लोहा
3) कच्चा लोहा
4) इस्पात

Correct Answer: कच्चा लोहा

QID : 1097 -
सभी लोहे और इस्पात उत्पादों के लिए ________ कच्ची सामग्री होती है।

Options:
1) ढलवां लोहा
2) गढ़ा लोहा
3) कच्चा लोहा
4) इस्पात

Correct Answer: कच्चा लोहा

QID : 1098 -
धूसर कच्चे लोहे ____________ में होती है।

Options:
1) भंगुरता
2) निम्‍न विद्युत वाहकता
3) निम्न संपीड़न शक्ति
4) सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: निम्‍न विद्युत वाहकता

QID : 1099 -
ठंडा ढलवां लोहा _______________ होता है।

Options:
1)सतह पर कोमल
2)स्वतंत्र रूप से यंत्रित
3)घिसाव से उच्च प्रतिरोध
4)सभी विकल्‍प सही हैं।

Correct Answer: घिसाव से उच्च प्रतिरोध

QID : 1100 -
यदि ढलवा लोहे में उपस्थित कार्बन आंशिक रूप से मुक्त और आंशिक रूप से संयोजित अवस्था में हो, तो यह _________ कहलाता है।

Options:
1) श्वेत ढलवां लोहा
2) धूसर ढलवां लोहा
3) तरल ढलवां लोहा
4) इनमें से कोई नहीं

Correct Answer: श्वेत ढलवां लोहा

Click Here To Download Full Paper

Study Kit for SSC Junior Engineer EXAM (Paper-1) 2017-2018

Books for SSC Junior Engineers Exam

<<Go Back To Main Page


IMP! GET SSC EXAM ALERTS on EMAIL